राष्ट्रीय पठन मास समापन समारोह संपन्न (कोटा न्यूज़)

Sufi Ki Kalam Se

राष्ट्रीय पठन मास समापन समारोह – भारतीय संविधान की प्रति का लोकार्पण एवं पठन की महत्ता पर व्याख्यान राजकीय सार्वजनिक मण्डल पुस्तकालय कोटा मे दिनांक 19 जून 2023 से 18 जून 2023 तक चल रहे राष्ट्रीय पठन मास का समापन समारोह कार्यक्रम आयोजित किया गया | इस कार्यक्रम मे आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत आयोजित स्मरणोत्सव के तहत संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के अधीन दिल्ली पब्लिक लाईब्रेरी से प्राप्त भारतीय संविधान की प्रति का लोकार्पण एवं पठन की महत्ता पर व्याख्यान मुख्य अतिथि शशि मीणा उपनिदेशक महात्मा गांधी प्रकोष्ठ कोटा द्वारा किया गया | कार्यक्रम की अध्यक्षता सेवानिवृत बेक प्रबन्धक श्रीमण एवं विशिष्ट अतिथि नीरज शर्मा रहे | उदघाटन सत्र मे डॉ दीपक कुमार श्रीवास्तव संभागीय पुस्तकालयाध्यक्ष ने कहा कि – अध्ययन ज्ञान का द्वार है, जो समृद्धि और दृष्टिकोण को बढ़ाती है। यह सृजनशीलता को बढ़ाती है, विचारशीलता को समृद्ध करती है और दुनिया को समझने की क्षमता देती है। पढ़ाई से व्यक्ति समझदार बनता है और सफलता की ओर प्रगति करता है। मुख्य अतिथि शशि मीणा ने बारबरा डब्ल्यू तुचमन की बात को उद्दवत करते हुये कहा कि - किताबे सभ्यता की वाहक हैं। किताबों के बिना इतिहास मौन है, साहित्य गूंगा हैं, विज्ञान अपंग हैं, विचार और अटकलें स्थिर है। ये परिवर्तन का इंजन हैं, विश्व की खिड़कियां हैं, समय के समुद्र में खड़ा प्रकाशस्तंभ हैं। अध्ययन ही हे जो आपको जीवन मे असीम अवसर प्रदान करता हे | भारतीय संविधान की पुस्तक से रुबरू होने के लिए युवाओं खासा उत्साह देखने को मिला | इस अवसर पर अंजु मीणा , प्रिया, अपेक्षा , प्रेमलता , प्रियंका , मेघा , सुषमा, आरती , पायल , चित्रा , पूजा , लक्षमी , मधु , निशा , कुसुम , जसवंत सिंह , जितेंद्र सिंह , दीपक नामदेव , जितेंद्र मीणा , भावेश सेनी , भवानी प्रसाद, ने रीडींग की महत्ता पर प्रकाश डाला | इस अवसर पर मुख्य अतिथि को पुस्तकालय प्रशासन द्वारा मेडल प्रदान कर सम्मानित किया | कार्यक्रम प्रबंधन रोहित नामा एवं अजय सक्सेना ने किया | आमंत्रित अतिथियों का आभार कार्यक्रम संयोजिका शशि जैन ने प्रदान किया |


Sufi Ki Kalam Se

2 thoughts on “राष्ट्रीय पठन मास समापन समारोह संपन्न (कोटा न्यूज़)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!