मुहिम के निशुल्क
आरएएस फाउन्डेशन कोर्स का हुआ समापन

Sufi Ki Kalam Se

मुहिम के निशुल्क
आरएएस फाउन्डेशन कोर्स का हुआ समापन
प्रदेश भर के विद्यार्थियों का हुआ विदाई समारोह
मुहिम के अन्तर्गत मुस्लिम स्कूल में
काॅम्पिटीटिव कॉचिंग क्लासेज और
हॉस्टल की दी जा रही है सुविधा जोधपुर 31 मार्च। मुस्लिम समाज में शिक्षा की जागृति लाने के उद्देश्य से राजस्थान के चिंतक मुस्लिम शिक्षाविदों ने ‘अल्पसंख्यक (मुस्लिम) एज्यूकेशन हॉस्टल एण्ड वेलफेयर फाउण्डेशन‘ बनाया जिसे ‘मुहिम‘ का नाम दिया गया, जिसका मूल उद्देश्य अल्पसंख्यक मुस्लिम परीक्षार्थियों के लिए काॅम्पिटीटिव कॉचिंग क्लासेज और हॉस्टल की स्थापना करना है। इसी मुहिम क्लासेज के जरिये कमला नेहरू नगर स्थित मौलाना आजाद कैम्पस में राजस्थान के चयनित 100 छात्र- छात्राओं के लिए गत वर्ष के आखिर में शुरू हुए चार महीने के ‘निःशुल्क आरएएस फाउन्डेशन कोर्स‘ का समापन एवं विदाई समारोह आयोजित किया गया। मुहिम के ट्रस्टी एवं जोधपुर प्रभारी अख्तर हिन्दुस्तानी* ने बताया कि ‘मारवाड़ मुस्लिम एज्यूकेशनल एण्ड वेलफेयर सोसायटी‘ के विशेष सहयोग से मौलाना आजाद कैम्पस में चलने वाली इन क्लासेज के विदाई समारोह में जयपुर, कोटा, टोंक, उदयपुर, पाली, जैसलमेर, नागौर, सीकर, सवाई माधोपुर, बाड़मेर, हनुमानगढ़, एवं जोधपुर सहित प्रदेश भर से मुहिम से जुड़े सदस्यों, पदाधिकारियों एवं मुस्लिम समाज के कई शिक्षाविद् एवं समाजसेवी उपस्थित रहे। समारोह में समस्त मुहिम सदस्यों एवं अतिथियों ने मुस्लिम समाज के शैक्षिक पुनरुत्थान के लिए ‘मुहिम क्लासेज‘ की इस पहल की खूब सराहना की । पूर्व फॉरेस्ट ऑफिसर इस्हाक अहमद मुगल ने प्रशासनिक सेवाओं की महत्ता बताते हुए कहा कि अगर शिकार करना ही है तो शेर का शिकार कीजिए, फिर सारा जंगल तुम्हारा है। मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी के चेयरपर्सन मोहम्मद अतीक ने कहा कि हमें भरोसेमंद और कर्मठ लोग तैयार करने होगें जो जिम्मेदारी से मुहिम और मुहिम जैसे कारवां को निरन्तर आगे बढाते रहें। मुहिम के टोंक निवासी ट्रस्टी खुर्शीद अनवर ने कहा कि हम लोगों को रूखा सूखा खाकर भी अपनी नस्लों को शिक्षित करना चाहिए। कोटा के मेहमूद रजा ने मुस्लिम समाज से शादी और निकाह में कम और शिक्षा पर अधिक से अधिक खर्च करने का आह्वान किया। हाईकोर्ट एडवोकेट जावेद मोयल ने ज्यादा से ज्यादा बच्चों को सिविल सर्विसेज में जाने पर बल दिया और अन्त में मुहिम के ट्रस्टी उमर फारुक ने लड़कों के साथ-साथ मुस्लिम लड़कियों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देने का आग्रह किया। आरएएस फाउन्डेशन कोर्स से जुड़े कई छात्र-छात्राओं, कई गणमान्य नागरिकों एवं मुहिम के पदाधिकारियों ने भी अपने अनुभव साझा किये। प्रशासनिक सेवाओं सहित विभिन्न सरकारी नौकरियों में अल्पसंख्यक युवाओं और युवतियों की भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य के तहत जोधपर में आरएएस फाउन्डेशन एवं रीट कोचिंग के साथ साथ मुहिम ट्रस्ट की तरफ से कोटा में हॉस्टल, हेल्प डेस्क, टोंक में डे-बोर्डिंग रीट कोचिंग का आयोजन किया जा रहा है। समारोह के अन्त में मुहिम क्लासेज के इस सहयोग के लिए मारवाड़ मुस्लिम एज्यूकेशनल एण्ड वेलफेयर सोसायटी, शिक्षाविद मजाहिर सुल्तान जई, अब्दुल्लाह सिद्दिकी, सहयोगी मोहम्मद इकबाल, गर्ल्स हाॅस्टल वार्डन रेशमा सैफी, बॉयज हॉस्टल के वार्डन बरकत्तुल्लाह एवं मुहिम क्लासेज की छात्रा जुवैरिया सहित सभी सहयोगियों और फैकल्टीज को उनके सराहनीय योगदान के लिए सम्मानित किया गया। विदाई समारोह के अंत में समस्त विद्यार्थियों की कामयाबी के लिए दुआ कराई गई। समारोह का प्रभावपूर्ण संचालन उर्दू व्याख्याता एवं मुहिम ट्रस्टी अकमल नईम ने किया एवं मुहिम ट्रस्टी इकबाल अली रंगरेज ने धन्यवाद ज्ञापित किया।


Sufi Ki Kalam Se

8 thoughts on “मुहिम के निशुल्क
आरएएस फाउन्डेशन कोर्स का हुआ समापन

  1. Pingback: detailen
  2. Pingback: super kaya slot
  3. Pingback: กงล้อ888
  4. Pingback: fox888

Comments are closed.

error: Content is protected !!