अब 62 हजार पदों पर होगी शिक्षक भर्ती रीट-2021

Sufi Ki Kalam Se

अब 62 हजार पदों पर होगी शिक्षक भर्ती रीट-2021
लेवल प्रथम के 15,500 पदों पर जारी रहेगी नियुक्ति प्रक्रिया रीट-2021 लेवल द्वितीय परीक्षा होगी निरस्त
जयपुर, 07 फरवरी। राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए कृतसंकल्प है। इस दिशा में विगत तीन वषोर्ं में एक लाख युवाओं को विभिन्न विभागों में नियुक्तियां दी गई हैं और एक लाख पदों पर भतीर् के लिए प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। हाल ही में रीट परीक्षा-2021 के आयोजन के समय राज्य सरकार ने लाखों अभ्यथिर्यों के निःशुल्क आवागमन की व्यवस्था की। आमजन ने भी इन अभ्यथिर्यों को आवास तथा भोजन कराने में मुक्तहस्त से सहयोग किया। परीक्षा के दौरान नकल आदि रोकने के लिए स्पेशल आॅपरेशन गु्रप (एसओजी) के माध्यम से निगरानी की व्यवस्था की गई। परीक्षा के समय इंटरनेट को बंद रखा गया, ताकि इस प्रकार की घटनाओं की रोकथाम में मदद मिल सके। एसओजी ने अपने निगरानी तंत्र से परीक्षा से पूवर् ऐसे अभ्यथिर्यों तथा आपराधिक व्यक्तियों के बारे में सूचना प्राप्त की और उसके आधार पर कारर्वाई प्रारंभ की। सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा। ऐसे किसी भी व्यक्तियों पर सख्त कारर्वाई की जाएगी। इसी को ध्यान में रखते हुए 26 सितम्बर, 2021 को आयोजित रीट परीक्षा के बाद कुल 42 अधिकारियों-कामिर्कों को निलंबित एवं बखार्स्त तक किया जा चुका है। एसओजी ने निष्पक्ष रूप से कायर् करते हुए अल्प समय में ही यह पता किया है कि प्रश्न-पत्र कहां से लीक हुआ और इसमें प्रथम दृष्टया कौन-कौन लोग लिप्त थे। इस उद्देश्य से त्वरित अनुसंधान जारी है और अब तक कुल 38 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं, जिनमें 14 अभ्यथीर् भी शामिल हैं। इस मामले में 1 करोड़ 16 लाख रूपए की रिकवरी की जा चुकी है। राज्य सरकार ने अब तक के अनुसंधान एवं प्राप्त जानकारी के आधार पर राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोडर्, अजमेर के तत्कालीन अध्यक्ष श्री डीपी जारौली को बखार्स्त तथा बोडर् सचिव सहित कुल 42 अधिकारियों-कामिर्कों को तत्काल निलंबित किया है। एसओजी की कारर्वाई अभी भी जारी है। राज्य सरकार ने अब यह निणर्य किया है कि रीट की परीक्षा के लेवल-प्रथम में चूंकि किसी प्रकार की कोई पेपर लीक या अन्य किसी प्रकार की घटना प्रकाश में नहीं आई है। साथ ही, इसके माध्यम से शिक्षक भतीर् के करीब 15 हजार 500 पदों पर अभ्यथिर्यों को नियुक्तियां दी जानी हैं। ऐसे में बेरोजगार युवाओं एवं अभ्यथिर्यों के हित में
नियुक्तियां शीघ्र देने के लिए इन पदों को शीघ्र भरा जाए। यह भी निणर्य किया गया है कि इस वषर् रीट लेवल-प्रथम परीक्षा में उत्तीणर् अभ्यथिर्यों को मेरिट के आधार पर नियुक्ति दी जाएगी। उन्हें नियुक्ति के लिए शिक्षक भतीर् की अन्य परीक्षा नहीं देनी होगी। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में सोमवार को हुई मंत्रिमण्डल की बैठक में कैबिनेट ने निणर्य किया कि लेवल-द्वितीय के लिए आयोजित रीट परीक्षा को निरस्त किया जाए। प्रतियोगी परीक्षाओं में पारदशिर्ता के लिए उच्च न्यायालय के पूवर् न्यायाधीश जस्टिस वीके व्यास की अध्यक्षता में गठित समिति की 15 माचर् को रिपोटर् आते ही भतीर् के लिए आगामी परीक्षा की तिथि शीघ्र घोषित की जाएगी। कैबिनेट ने विद्यालयों में रिक्त पद भरने, शिक्षा में गुणवत्ता तथा युवाओं को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर प्रदान करने के लिए निणर्य किया कि रीट परीक्षा-2022 के माध्यम से होेने वाली भतीर् में पदों की संख्या को 20 हजार से बढ़ाकर अब 30 हजार किया जाए। इसमें रीट-2021 के लेवल द्वितीय के 16 हजार 500 पद जोड़ते हुए अब कुल 46 हजार 500 पदों के लिए रीट-2022 का आयोजन इस वषर् जुलाई माह में किया जाना प्रस्तावित है। इससे रीट परीक्षा-2021 के लेवल द्वितीय के अभ्यथिर्यों तथा जो विद्याथीर् अभी बीएसटीसी और बीएड का अध्ययन कर रहे हैं, उन्हें भी परीक्षा में बैठने का अवसर मिल सकेगा। बीएसटीसी करने वाले विद्याथिर्यों का परिणाम जून माह में आने की संभावना है। कैबिनेट ने चिंता व्यक्त की कि कुछ लोग अनगर्ल बयानबाजी कर अभ्यथिर्यों को भ्रमित करना चाहते है। ऐसे लोग नहीं चाहते कि रिक्त पदों को भरा जाए। इस प्रकार की सोच रखने वाले तथा गुमराह करने वाले तत्वों से युवाओं का सावचेत रहना जरूरी है।


Sufi Ki Kalam Se

7 thoughts on “अब 62 हजार पदों पर होगी शिक्षक भर्ती रीट-2021

  1. Pingback: health tests
  2. Pingback: bonanza178
  3. Pingback: Bilad Alrafidain

Comments are closed.

error: Content is protected !!