मदरसा पैराटीचर्स ने दिया अनोखा ज्ञापन, दिल के अरमां आँसुओ में बह गए सविंदा कर्मी कांग्रेस से वफ़ा करके तन्हा रह गए” 

Sufi Ki Kalam Se

मदरसा पैरा टीचर्स ने दिया अनोखा ज्ञापन,

गेस्ट रिपोर्टर बशीर शाह साईं पाटौदी की खबर


पाटोदी आज राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगी संघ के बैनर तले राज्य भर से तहसील स्तर से मदरसा पैरा टीचर्स को नियमित करने,  मानदेय बढ़ोतरी सहित अन्य मांगों को लेकर और हाल ही में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा द्वारा विधानसभा में दिए गए अपने दिए व्यक्तव्य को लेकर मदरसा पैरा टीचरों ने आक्रोश जताते हुए मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन सौंपा। इस ज्ञापन में मांग की जगह शायराना अंदाज में “दिल के अरमां आँसुओ में बह गए सविंदा कर्मी कांग्रेस से वफ़ा करके तन्हा रह गए”  पंक्तियां लिखी हुई है और 7सूत्रीमांगे रखी गई है।   साथ ही साथ मदरसा पैरा टीचर्स के साथ किए जा रहे शोषण और वादाखिलाफी के खिलाफ पैरा टीचर्स में असंतोष की भावना जागृत हो चुकी है कांग्रेस सरकार ने राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगी संघ को कई बार विभिन्न मंचों से नियमित करने और उचित मानदेय बढ़ोतरी का आश्वासन दिया गया था ।और सन दो हजार  अट्ठारह में कांग्रेस सरकार ने अपने जन घोषणापत्र में भी इस आशय की घोषणा की थी लेकिन हाल ही में विधानसभा के बजट चर्चा के दौरान शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने एक वक्तव्य में  बताया की पंचायत सहायक और पैरा टीचर्स को नियमित करने का सरकार के पास कोई मामला विचाराधीन नहीं है। और यह नियमित नहीं होंगे। जिससे मदरसा पैरा टीचर्स सहित समस्त संविदा कर्मियों में सरकार के प्रति रोष देखा जा रहा है इस संबंध में अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने मदरसा पैरा टीचर्स को नियमित करने का हालांकि आश्वासन भी दिया है। लेकिन संघ की कार्यकारिणी ने राजस्थान के प्रत्येक तहसील से मुख्यमंत्री को अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन के माध्यम से एक बार पुनः अवगत करवाया है वही शिक्षा मंत्री के इस बयान से अल्पसंख्यक वर्ग में भी आक्रोश है। अब देखना यह है कि इस पूर्व अनुदान बजट में मदरसा पैरा टीचर्स का मानदेय बढ़ोतरी को लेकर कितना मान सरकार रखेगी? इस ज्ञापन में मदरसा पैराटीचर्स ने कुल 7 सूत्री मांगे रखी है आज पाटोदी नायब तहसीलदार को यह ज्ञापन सौपकर कर उचित कार्रवाई करने की मांग की गई। इस दौरान बशीर शाह, गाजी खान भाखर सर, नसीर खान बागावास, हबीब मेहर, करीम खान, चंपालाल, इकबाल शाह,भीखू शाह आदि मौजूद रहे।

गेस्ट रिपोर्टर बशीर शाह साईं पाटौदी की खबर


Sufi Ki Kalam Se
error: Content is protected !!