मुर्दे के जिन्दा होने की फैली अफवाह, लोगों की भीड़ कब्र से बाहर निकालने पहुंची (सीकर न्यूज)

Sufi Ki Kalam Se

मौत के 22 दिन बाद फैली जिंदा होने की अफवाह:लोगों की भीड़ कब्र से बाहर निकालने पहुंची, बोले- सपने में आकर बताया; मृतक के बेटे और पुलिस ने समझाया
– गेस्ट ब्लॉगर अशफाक कायमखानी
जयपुर/सीकर।
सीकर शहर के न्यू रोशनगंज इलाके में मंगलवार को अफवाह फैल गई कि एक कोरोना संक्रमित जिसकी 22 दिन पहले मौत हो गई थी, वो कब्र में जिंदा है। बस फिर क्या था बड़ी संख्या में मौहल्ले वाले और समाज के लोग कब्रिस्तान पहुंच गए। मृतक के बेटे को इस बात का पता चला तो वो भी कब्रिस्तान पहुंच गया। पुलिस भी मौके पर पहुंची। जिसने लोगों को समझाया।
दरअसल, न्यू रोशनगंज निवासी मोहम्मद शरीफ का 9 मई को कोरोना से इंतकाल हो गया था। उसके परिजनों ने कब्र में दफना दिया था। मंगलवार सुबह से न्यू रोशनगंज में अफवाह फैली की शरीफ जिंदा है। जो कब्र से बाहर निकलने के लिए लोगों को पुकार रहा है। इसके बाद काफी संख्या में लोग सुबह कब्रिस्तान पहुंच गए। शरीफ के बेटे रउफ को भी साथ ने बताया कि लोग तेरे अब्बा को कब्र से निकालने के लिए पहुंच रहे है। इसके बाद बेटा भी मौके पर पहुंचा। जो लोगों को समझाने लगा कि कब्र को नुकसान नहीं पहुंचाएं।
सूचना पर कोतवाली थाना पुलिस की नॉर्थ चौकी से पुलिसकर्मी भी कब्रिस्तान पहुंच गए। पूछताछ में लोगों ने बताया कि ऐसी जानकारी आई है कि शरीफ सपने में आकर कह रहा है कि वह जिंदा है, उसे कब्र से निकालो। पुलिस ने सपना देखने वाले शख्स के बारे में जानकारी जुटाई तो कोई सामने नहीं आया। इसके बाद पुलिस ने समझाइश कर लोगों को कब्रिस्तान से हटाया और घर लौटने के लिए कहा। वहीं, अफवाह पर इतने लोगों को आया देखकर सभी लोग चिंतित हो गए कि आखिर क्या हो गया। जो इतनी तादाद में कब्रिस्तान में लोग जमा हो गए।

अफवाह फैलाने वाले की तलाश

पुलिस फिलहाल अफवाह फैलाने वाले की तलाश कर रही है। जिसने लोगों को कब्र से छेड़छाड़ करने के लिए तैयार किया।


Sufi Ki Kalam Se
error: Content is protected !!