सीकर के मुस्लिम बहुल गावं मे ग्रामवासियों ने बीना सरकारी मदद के कोविड केयर सेंटर कायम किया (गेस्ट ब्लॉगर अशफाक कायमखानी)

Sufi Ki Kalam Se

सीकर के मुस्लिम बहुल गावं खीरवा मे गावं वासियो ने बीना सरकारी मदद के कोविड केयर सेंटर कायम किया।
।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।


विश्व महामारी कोराना के जारी भंयकर प्रकोप के मध्य जनता मे जारी दहसत के चलते चारो तरफ हाहाकार मचने से एक तरफ बैचेनी का आलम है। तो दूसरी तरफ सीकर जिले की लक्ष्मनगढ तहसील के मुस्लिम बहुल खीरवा गावं मे इक्कीस दिन मे इक्कीस लोगो के मरने के बाद गावं वालो ने स्वयं आगे आकर अपने खर्चे से गावं के मदरसे मे कोविड केयर सेंटर कायम करके उसमे कोराना संक्रमित व सदिग्ध सक्रमित मरीजो को रखकर उनको समय पर समुचित चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवा कर लगातार होती मौतो पर ब्रेक लगा दिया है।
गावं के युवाओं ने होती मौतो को रोकने के लिये महज छ दिन मे करीब अपने स्तर पर पंद्रह लाख रुपयो का फंड इकठ्ठा करके दो आक्सीजन कन्संट्रेटर जुटाने के उपरांत चार ओर खरीद के आर्डर दे दिये है। वही जिला प्रशासन से कम से कम दस आक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने की मांग की है।
गावं के धार्मिक विद्वान व मदरसा के मोतमिम मोलाना महमूद हसन कासमी व अन्य मोजिज लोगो से युवाओं ने सलाह-मश्वरा करके कोविड केयर सेंटर के काम को हाथ मे लेकर उसको चंद दिनो मे पाये तकलीम पर पहुंचा कर कोविड केयर सेंटर शुरू करने के बाद गावं ने राहत की सांस ली है।कोविड केयर सेंटर पर गावं के नर्सिंग कर्मी इरफान खान व अशरफ के अलावा ANM सुमित्रा देवी के साथ साथ स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक रमजान व शाहिद भी सेवाऐ दे रहे है। इस कोविड केन्द्र मे वर्तमान मे दस-बारह रोगी स्वस्थ्य लाभ ले रहे है। गावं के लोगो मे व्याप्त भय अब कम होने लगने के साथ साथ गावं वालो की कोराना से लड़कर उसे मात देने व गावं को कोराना मुक्त करने के होंसले मे भारी इजाफा होता देखा जा रहा है।


Sufi Ki Kalam Se
error: Content is protected !!