राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल (गेस्ट ब्लॉगर अशफाक कायमखानी)

Sufi Ki Kalam Se

राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल
सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले।
जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया

जाकिर हुसैन जिला कलेक्टर गंगानगर


गेस्ट ब्लॉगर अशफाक कायमखानी जयपुर
राजस्थान सरकार ने सतयावन भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की तबादला सूची जारी करके ब्यूरोक्रेसी मे बडा फैरबदल किया है। जिसमे जाकीर हुसैन को हनुमानगढ़ से बदलकर श्रीगंगानगर का जिला कलेक्टर के पद पर लगाया गया है। प्रदेश के अल्पसंख्यक समुदाय मे अधिकारियों की खान वाले परिवार से तालूक रखने वाले झूंझुनू जिले के नुआ गावंवासी जाकीर हुसैन के बडे भाई अशफाक हुसैन भी पूर्व मे दौसा के जिला कलेक्टर रह चुके है। जाकीर हुसैन के अतिरिक्त वर्तमान समय मे अल्पसंख्यक समुदाय के उमरदीन खान पहले से ही झूंझुनू जिला कलेक्टर के पद पर पदस्थापित है।
यदा कदा राजस्थान के मुस्लिम समुदाय से तालूक रखने वाले बच्चे सीधे तौर पर भारतीय सिविल सेवा परीक्षा उत्तीर्ण करके भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी बनते तो रहे है। लेकिन उनमे से किसी को भी राजस्थान केडर अभी तक नही मिल पाया है। अलबत्ता दुसरे प्रदेशो के रहने वाले केण्डीडेटस के चयनित होने के बाद उन्हें राजस्थान केडर जरूर मिला है। जिनमे से सलाउद्दीन अहमद मुख्य सचिव पद से सेवानिवृत्त हुये है। कमर जमा चोधरी वर्तमान मे जोधपुर मे जेडीसी पद पर व जुनेद झालावाड़ मे उपखण्ड अधिकारी पद पर पदस्थापित है। एक अन्य आईएएस अतर आमिर वर्तमान समय मे डेपुटेशन पर काशमीर मे पदस्थापित है।
प्रदेश मे करीब 11-12 प्रतिशत वाला मुस्लिम समुदाय शिक्षा के लिहाज से तो आगे नही माना जा सकता है। फिर भी खासतौर पर गावं देहातो मे अभावो मे रहने वाले परिवारों से कुछ बच्चे अपने स्तर पर कड़ी मेहनत करके ब्यूरोक्रेसी मे अपनी जगह बनाने मे कभी कभार कामयाब हो जाते है। रियासतो के विलय के समय एक समझोते के तहत बूंदी के रहने वाले अलाऊद्दीन खिलजी सहित कुल चार मुस्लिम जिला कलेक्टर बनाये गये थे। उसके बाद भारत मे परिक्षाओं के मार्फत अधिकारी बनने लगे है।
सीधे तौर पर भारतीय प्रशासनिक प्रशासनिक सेवा IAS के लिये चयनित होकर राजस्थान केडर मे आने वाले मुस्लिम अधिकारी सलाउद्दीन अहमद, कमर जमा चोधरी, अतर आमिर व मोहम्मद जुनेद के अतिरिक्त राजस्थान प्रशासनिक सेवा से तरक्की पाकर एवं अन्य सेवाओं के कोटे मे चयनित होकर भी भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी बने है। जिनमे जे एम खान, ऐ आर खान, एम एस खान, शफी मोहम्मद कुरेशी, अशफाक हुसैन, मोहम्मद हनीफ, उमरदीन खान व जाकीर हुसैन भी शामिल है। इन सब के अतिरिक्त राजस्थान प्रशासनिक सेवा से तरक्की पाकर भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी बनने के लिये गजट नोटिफिकेशन के इंतजार मे इकबाल खान व रश्मि इकबाल पहाड़ियान है।
अब चर्चा करते है जिला कलेक्टर जाकीर हुसैन के परिवार पर जिसको अधिकारियों की खान वाला परिवार माना जाता है। जाकीर हुसैन के अलावा इनके बडे भाई लियाकत अली खान पुलिस सेवा मे आईजीपी व दुसरे बडे भाई भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी की हैशियत से सेवानिवृत्त हुये है। इनकी भतीजी फराह भारतीय राजस्व सेवा की आला अधिकारी व भतीजी दामाद कमर चोधरी भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी है। भाणजा सलीम खान व उनकी पत्नी सना खान के अलावा भतीजा शाहीन अली खान राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी है।भतीजे शाहीन की पत्नी मोनिका जैल सेवा की आला अधिकारी है। इसके अतिरिक्त निकट के रिस्तेदार जावेद अली राजस्थान प्रशासनिक सेवा व ऐजाज नबी खान राजस्थान एकाऊंट सेवा के आला अधिकारी है। भतीजा शाहीन वर्तमान मे राजस्थान प्रशासनिक सेवा अधिकारी युनियन के अध्यक्ष भी है। प्रशासनिक सेवा के अलावा जाकीर हुसैन के परिवार जन व निकट के रिस्तेदार फौज मे आला पद पर भी पदस्थापित रहे एवं वर्तमान मे पदस्थापित है।


Sufi Ki Kalam Se

7 thoughts on “राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल (गेस्ट ब्लॉगर अशफाक कायमखानी)

  1. Pingback: soothing music

Comments are closed.

error: Content is protected !!