शिक्षा, पर्यटन एवं देवस्थान राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने मेडिकल कॉलेज का लिया जायजा (गेस्ट ब्लॉगर अशफाक कायमखानी)

Sufi Ki Kalam Se

शिक्षा, पर्यटन एवं देवस्थान राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने मेडिकल कॉलेज का लिया जायजा
कोविड की तैयारियों को लेकर मैडिकल कॉलेज के प्राचार्य के.के. वर्मा से ली जानकारी।
– गेस्ट ब्लॉगर अशफाक कायमखानी


शिक्षा, पर्यटन एवं देवस्थान राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा द्वारा सोमवार को सीकर जिला मुख्यालय स्थित कल्याण राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय का दौरा करते हुये महाविद्यालय के बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर एवं अनुशासित वातावरण के महाविद्यालय स्टाफ की भूरी भूरी प्रशंसा की।
इस दौरान राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि वर्षों से जिले के निवासियों की परिकल्पना थी कि हमारे जिले में मेडिकल कॉलेज हो ऎसे में जिले में काफी प्रयासों के बाद मेडिकल कॉलेज खुला है। डोटासरा ने कहा कि आज मुझे यहां आने का मौका मिला और यहां का इंफ्रास्ट्रक्चर, अनुशासित वातावरण में विधर्थियो का अध्ययन देखकर काफी अच्छा लगा। डोटासरा ने कहा कि मेरे द्वारा महाविद्यालय प्रिंसिपल को कहा गया है कि महाविद्यालय में किसी भी प्रकार की कोई आवश्यकता हो तो बताएं जिसे राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध करवाने का प्रयास किया जायेगा। डोटासरा ने कहा कि मुझे खुशी होगी की सीकर जिले के मेडिकल कॉलेज से पास होकर निकलने वाला बच्चा देश, दुनिया में जिले का नाम रोशन करें। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज सीकर जिले का नाक है क्योंकि बहुत ही संघर्ष करने के बाद यह महाविद्यालय चालू हुआ है। ऎसे में हमारा सभी का दायित्व है कि हर तरह से मेडिकल कॉलेज को सहायता प्रदान करें। डोटसरा के कहा कि वर्तमान में कोरोना महामारी की दूसरी लहर को फैलने से रोकने के लिए आमजन की सहभागिता के साथ-साथ डॉक्टर्स और महाविद्यालय में अध्यनरत विद्र्याथियों से जनता की बहुत सारी उम्मीदें जुड़ी हुई है ऎसे में हम सब अपना कर्तव्य निभाते हुए इस दूसरी लहर को फैलने से रोके।
उन्होंने कहा कि वर्तमान में बहुत ही भयावह स्थिति पैदा हो चुकी है । राज्य में 10 हजार से ऊपर पॉजिटिव केस आ रहे हैं, 1 दिन में 42 मौतें हो रही है, ऑक्सीजन की कमी आने लगी है। रेमिडेविसिर इंजेक्शन की कमी हो रही है उन पर नियंत्रण नहीं हो पाएगा वहीं दूसरी ओर भारत सरकार द्वारा ऑक्सीजन वितरण पर भी खुद का नियंत्रण कर लिया है एवं भिवाड़ी ऑक्सीजन प्लांट पर भी केंद्र सरकार द्वारा नियंत्रण कर लिया गया है ऎसे में राज्य सरकार प्रदेश में ऑक्सीजन उपलब्ध करवाने का लगातार प्रयास कर रही है।


शिक्षा राज्य मंत्री डोटासरा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को फैलने से रोकने के लिए आमजन का दायित्व है कि वह अनावश्यक रूप से घर से बाहर ना निकले, हमेशा मास्क लगाकर रखें और समय आने पर एक दूसरे की यथासंभव मदद करें जिससे कि हम इस आपदा की घड़ी से बाहर निकल पाएं। डोटासरा ने कहा कि प्रतिदिन मुख्यमंत्री द्वारा महामारी पर नियंत्रण करने के लिए समीक्षा की जाती है ऎसे में जैसे-जैसे इसका प्रकोप होगा उसी आधार पर आगे के निर्णय राज्य सरकार द्वारा लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सोमवार से शिक्षा विभाग में भी हमने सभी विद्यालयों के पीओ को छोड़कर अन्य सभी र्कामिकों की छुट्टियां कर दी है ऎसे में वह घर पर रहकर परीक्षा परिणाम एवं प्रमोटिंग के संबंध में कार्य करेंगे और महामारी में जहां भी आवश्यकता होगी वहां अपनी सेवा प्रदान करेंगे। इस दौरान उन्होंने एनोटोमी विभाग , हेमोस्ट्रोमेशन रूम, सेंट्रल फोटोग्राफी रूम, हिस्ट्रालॉजी लैब, म्यूजियम, मॉडल रूम, बॉयोकेमेस्ट्री विभाग का सघन निरीक्षण कर जायजा लिया। इस अवसर पर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. के.के वर्मा, डॉ. हरिसिंह खेदड़ सहित मेडिकल कॉलेज का स्टाफ उपस्थित रहें।


Sufi Ki Kalam Se
error: Content is protected !!