कश्मीर फाइल्स बनाम राजस्थान , गुजरात और मध्य प्रदेश फाइल्स

Sufi Ki Kalam Se

कश्मीर फाइल्स बनाम राजस्थान , गुजरात और मध्य प्रदेश फाइल्स
पिछले महीने रिलीज हुई विवेक अग्निहोत्री कृत द कश्मीर फाइल्स काफी चर्चित रही थी जिसमें 1990 के दशक में हुए कश्मीरी पंडितों पर अत्याचार को दिखाया गया था जो कि पूर्णतया उचित भी है लेकिन कश्मीरी पंडितों के दर्द को दिखाने के लिए एक धर्म विशेष को टार्गेट करना फिल्म को फिल्म ना बनाकर एक सुनियोजित साजिश बना देता है जो पूर्णतया अनुचित है।


आजादी के बाद से लेकर अब तक, भारत देश में कई हिस्सों में हमेशा किसी ना किसी धर्म के लोगों को किसी न किसी ने निशाना बनाया है जिन पर फ़िल्में बनने के साथ साथ कई किताबे भी लिखी गई है लेकिन सब में सिर्फ घटनाओ का वर्णन घटनाओ की तरह किया गया है यानी किसी भी धर्म को टार्गेट नहीं किया गया था। उदाहरण के तौर पर हिन्दुस्तान के कोने कोने में आदिवासी, दलित और अल्पसंख्यकों पर कई अत्याचार होते आए हैं और वर्तमान में भी हो रहे हैं लेकिन उनका दर्द दिखाने के लिए कभी किसी धर्म विशेष को दोषी करार ना देकर सम्बन्धित लोगों को दोषी दिखाया जाता रहा है लेकिन द कश्मीर फाइल्स की कहानी पूरी तरह से अलग है। यहाँ फ़िल्म को किसी का दर्द दिखाने के उद्देश से कम और लोगों को एक धर्म विशेष के खिलाफ भड़काने के लिए उत्तेजक मसाला परोसा गया है। फिल्म में इतना उत्तेजक ज़हर होने के बाद भी इस फिल्म को केंद्र सरकार और विभिन्न राज्यों की सरकारों द्वारा प्रचारित किया गया जो लोकतांत्रिक सरकारों को कठघरे में खड़ा करता है। विवेक अग्निहोत्री ने फ़िल्म में मुख्य कहानी से ज्यादा धर्म विशेष की भावनाएं भड़काने का कटेंट ज्यादा परोसा है, ताकि लोगों के मन में धर्म विशेष के प्रति नफरत पैदा हो और शायद उनका ये मक़सद लगभग पूरा होता सा भी दिखाई दे रहा है।
जैसे ही फिल्म 100 करोड़ से ज्यादा कमाई कर देश के कोने कोने तक पहुंची, तब से ही देश के कई हिस्सों में दंगे होने की ख़बरें आने लगी। हालांकि दंगों के लिए द कश्मीर फाइल्स फिल्म को ही जिम्मेदार नहीं ठहराया जा रहा है और भी कई तथ्य है जो एक दूसरे के साथ जुड़कर इस तरह की घटनाओं को अंजाम तक पहुँचाने का काम कर रहे है।
राजस्थान के करौली, मध्य प्रदेश के खरगोन और गुजरात के कई जिलों में हाल ही में हुए दंगों की रिपोर्टों का विश्लेषण किया जाना बाकी है लेकिन जैसा कि हम जानते हैं कि इन कामों में बरसों तक कुछ होना जाना नहीं है। जिसके घर उजड़े, जिनकी जाने गई, जिनका कारोबार जलाकर राख कर दिया गया, क्या उनकी भी कश्मीर फाइल्स की तरह फ़ाइलें बनाई जाएगी? यह सवाल सिर्फ सवाल बनकर ही रह जाएगा। दंगा पीड़ित किसी भी समुदाय का हो सकता है लेकिन क्या विवेक अग्निहोत्री या उनकी जैसी विचारधारा के लोग क्या इन फाइलों को निष्पक्ष तरीके से खोलकर जनता के सामने रखेंगे और क्या यही सरकारें उन पीड़ितों पर बनी फाइलों को भी उसी तरह प्रचारित करेगी?
जैसा कि सर्वविदित है कि ऐसा कुछ नहीं होगा क्यूंकि यहां पीड़ितों की संख्या एक समुदाय विशेष की है जिनसे सरकार का कोई लेना देना नहीं है बल्कि सरकार तो पीड़ितों को ही खत्म करने में लगी हुई है।
उपरोक्त घटनाओ में पहले दंगाइयों ने लोगों के घरों और दुकानों को जलाया उसके बाद गोदी मीडिया ने एक तरफ़ा बाते प्रकाशित कर पीड़ितों को ही आरोपी बना कर कठघरे में खड़ा कर दिया, उसके बाद सरकारों ने पीड़ितों के घरों पर बुलडोजर चला कर सब तहस नहस कर दिया। यानी देखा जाए तो एक धर्म विशेष के लोगों पर एक ही बार में एक नहीं तीन तीन बार अन्याय हुआ है जो कि एक सुनियोजित साजिश का हिस्सा कहा जा सकता है। धरातल पर उतर कर देखने के बाद यह स्पष्ट है कि दंगाइयों ने किस तरह एक समुदाय विशेष की दुकानों को जलाया और ठीक बगल वाली दुकानों को छोड़ दिया इसके अतिरिक्त सोशल मीडिया पर वाइरल वीडियो में स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है कि किन लोगों ने क्या गलतियां की है, जिस पर भी गोदी मीडिया ने आंखे मूँद रखी है और सिर्फ एक धर्म विशेष को बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ रखी है।
देश में ऐसी घटनाएं आम हो चुकी है। प्रशासन से लेकर प्रधानमंत्री तक कोई भी अल्पसंख्यक पीड़ितों के साथ नहीं है। कुछ कश्मीरी पंडितों के नरसंहार पर घड़ियाली आंसू बहाने वाले सेंकड़ों अल्पसंख्यकों की मौत और उनके जुल्म ओ सितम पर एक शब्द नहीं बोलते हैं तो इसे सुनियोजित साजिश नहीं तो और क्या कहा जाएगा? बिना अदालतों के, सरकारें खुद ही ऑन द स्पॉट फैसला कर लोगों के घरों को कुचल रही है और एक लोकतांत्रिक देश को बदनुमा दाग दे रही है।

नासिर शाह (सूफ़ी)


Sufi Ki Kalam Se

2 thoughts on “कश्मीर फाइल्स बनाम राजस्थान , गुजरात और मध्य प्रदेश फाइल्स

  1. Kral cariyeler porno vıdeolarını ücretsiz
    izle. kral cariyeler sikiş filmleri oYoH ile izlenir, kesintisiz seks merkezi.
    OY KATEGORİLER VIDEO ARA. Kral Cariyeler porno izle. 12:
    12. Jenny Kral ve onun BF. Ailem benim gezmeye ve denize gitmeme daha rahat izin verirdi.

    Ben kafamı kasığına koydum bir süre yattık hadi banyo.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!