देने का त्यौहार है ईदउल फितर – मौलाना अकबर अकबरी पाटौदी (गेस्ट रिपोर्टर बशीर शाह साईं)

Sufi Ki Kalam Se

देने का त्यौहार है ईद उल फितर – मौलाना अकबर अकबरी
पाटौदी (गेस्ट रिपोर्टर बशीर शाह साईं)
पाटौदी के ईदगाह मैदान में आज सवेरे 9:00 बजे पेश इमाम मौलाना अकबर अकबरी द्वारा नमाज अदा करवाई गई। और ईद की मुबारकबाद दी। इस से पूर्व पाटोदी पंचायत समिति के मुस्लिम समुदाय ने जामा मस्जिद पाटोदी से जुलूस के रूप में ढ़ोल- तासो और नारो के साथ ईदगाह में प्रवेश किया और अल्लाह की तरफ से नवाजे गए इस इनाम को अदा किया। ईदगाह परिसर में मौलाना अकबर साहब अकबरी ने तकरीर करते हुए बताया “ईद उल फितर देने का त्यौहार है उन्होने बताया की हम रमजान के माह में रोजे रखकर अल्लाह को राजी करते हैं। और साथ ही फित्र, जकात और इमदाद के जरिए हम अपने भाई, पड़ोसी, यतीम, बेवा, जरूरतमंद आदि की मदद कर अपना फर्ज अदा करते है। और यह दस्तूर मज़हब ऐ इस्लाम का है इस तरह यह ईद देने का त्यौहार है ।ईद के बाद काजी साहब ने देश व दुनिया के सलामती की दुआ मांगी।और खास तौर पुलिस तथा प्रशासन के सहयोग पर आभार जताया। मौके पर मुस्लिम समाज के सदर अलाबक्स तेली, हाजी शेर शाह, सरपंच धर्मेंद्र भील, शौकीन शाह, नायब तहसीलदार हेमाराम सोलंकी, पुलिस थाना पचपदरा अधिकारी सुरा राम, पंचायत समिति सदस्य निजाम टावरी, डॉक्टर पीर खान, मास्टर कमरुद्दीन, बंसीलाल चांदोरा, पवन आचार्य, मदनलाल जीनगर, मेराज सिंह, गुलाब सिंह, वागा राम गर्ग, मेहरा राम नसीरखां खारड़ी, मोहम्मद मगलिया,अयूब खान छिपा, नजीर मोयला, हारून शाह इंशाफ खान, सहित पाटौदी के प्रबुद्ध लोग मौजूद रहे। और ईद की एक दूसरे को मुबारकबाद दी।


Sufi Ki Kalam Se

2 thoughts on “देने का त्यौहार है ईदउल फितर – मौलाना अकबर अकबरी पाटौदी (गेस्ट रिपोर्टर बशीर शाह साईं)

  1. Wow, marvelous blog layout! How lengthy have you ever been running a blog
    for? you made running a blog look easy. The full glance of your web site is
    fantastic, let alone the content material! You can see similar here dobry sklep

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!